JUNOONIYAT MOVIE DIALOGUES – Pulkit Samrat, Yami Gautam

Junooniyat Movie Dialogues
Junooniyat Movie Dialogues directed by Vivek Agnihotri, Produced by Bhushan Kumar, Krishan Kumar. Star Cast Pulkit Samrat, Yami Gautam.

Movie: Junooniyat
Starring: Pulkit Samrat, Yami Gautam
Story: Priti Singh
Music: Ankit Tiwari, Meet Bros, Jeet Gannguli
Production Company: T-Series Films
Director: Vivek Agnihotri
Producer: Bhushan Kumar, Krishan Kumar
Release date: 24 June 2016

Junooniyat Movie Dialogues

Har sher mein alfaaz to hote hain… par har alfaaz shayari nahi.. pyar to sab karte hain… par har pyar junooniyat nahi. – Pulkit Samrat

Ek hawa chhuke gai abhi abhi… chandni pighali abhi abhi.. ye mujhe kya ho gaya ye kahan main kho gaya. – Pulkit Samrat

Pyar ek parchhai ki tarah hai… jab tak uski aadat padh jaati hai, shaam ho jaati hai. – Yami Gautam

Jahan pyar hota hai wahan khalish nahi hoti… aur agar khalish ho to samjho pyar tha hi nahi. – Pulkit Samrat

Jalte hain log na jaane kyun mere junoon se.. arre ek baar to dekh liya hota mera hunar sukun se. – Pulkit Samrat

Pyar hai wo gehrai jise duniya samajh na payi.

Wo hawa joh tujhe chhuke gayi mujhe chhu jaaye, ek baar … ek baar teri khushboo mujh mein simat jaaye, ek baar … ek baar toh apne pallu se sehla … ek baar toh apne rang phaila … ek baar phir se deewana bana… bas ek baar … ek baar tere aansun meri hatheli mein tham jaaye … ek baar teri hansi se mera aangan bhar jaaye, ek baar … ek baar toh apna haath bada … ek baar toh gale se laga … chhu loon tujhe bas ek baar toh ho jaaye rab ka deedar, ek baar… tu hai toh main hoon, tu hai toh hi hai yeh jaan.. ek baar, ek baar, bas ek baar. – Pulkit Samrat

Ae dil tu kyun rota hai.. ye duniya hai, yahan aisa hi hota hai.. aankhon se tapke aansun to unhe chupaya ja sakta hai… lekin jab dil roye, ae zalim to kya kijiye. – Pulkit Samrat

Tumhari zindagi mein ek din aisa zaroor aayega, jab tum neend se jagogi aur apni life ko phir se rewind karke jeena chahogi … par tab waqt nahi hoga … humein jeena hai toh aaj jeeye, ab jeeye, ek doosre ke saath jeeye … taaki life phir kabhi rewind karne ki zaroorat na pade. – Pulkit Samrat

Uske intezar mein dard hai … usse bhool jaane mein bhi dard hai … lekin usse bhi zyada dard is confusion mein hai ki uska intezar karoon ya usse bhool jaaun. – Yami Gautam

Hum zindagi mein apni choice ke mutabik kuchh nahi kar sakte… ye taqdeer, ye kismat, ye naseeb, destiny, ye sab khel hai issi ka.

Love is sacrifice, tyaag, qurbaani.. kisi bhi junoon ke liye qurbaan ho jaana, that’s love.

Uske intezar me dard hai.. usse bhul jaane mein bhi dard hai… lekin usse bhi zyada dard is confusion mein hai ki uska intezar karoon ya usse bhul jaaun. – Yami Gautam

You don’t lose when you lose in love… you lose when you run away from the fear of losing.

Pyar ka matlab hai juaa… jeet gaye to pyar.. haar gaye to afsana.

Pyar ko wahan nahi dhoondte jahan wo hota nahi hai.. aur jahan wo hota hai… aur jahan wo hota hai wahan chupaya bhi nahi ja sakta.

Aisi koi paheli nahi jo maine suljhai nahi… jo na suljhe aisi fariyaad aayi nahi. – Pulkit Samrat

Brandy sharaab nahi hoti… brandy to jeene ka style hota hai.

Pyar ka jahaaz sabse zyada safe samundar ke kinare hota hai.. lekin jahaaz kinaare khade rehne ke liye nahi… lehron se joojne ke liye banta hai. – Yami Gautam

Pyar shaadi nahi hoti aur shaadi pyar nahi hota … pyar mein insaan andha, behra, goonga aur bewakoof banke reh jaata hai … aur shaadi mein kaan, aankh, dimaag sab kuch khul jaata hai.

Junooniyat Movie Dialogues in Hindi

हर शेर में अल्फाज़ तो होते हैं… पर हर अल्फाज़ शायरी नहीं… प्यार तो सब करते हैं… पर हर प्यार जुनुनियत नहीं. – पुलकित सम्राट

एक हवा छूके गयी अभी-अभी… चाँदनी पिघली अभी-अभी… ये मुझे क्या हो गया ये कहाँ मैं खो गया. – पुलकित सम्राट

प्यार एक परछाई की तरह है… जब तक उसकी आदत पढ़ जाती है, शाम हो जाती है. – यमी गौतम

जहाँ प्यार होता है वहाँ खलिश नहीं होती… और अगर खलिश हो टी समझो प्यार था ही नहीं. – पुलकित सम्राट

जलते हैं लोग ना जाने क्यूँ मेरे जूनून से… अरे एक बार तो देख लिया होता मेरा हुनर सुकून से. – पुलकित सम्राट

प्यार है वो गहराई जिसे दुनिया समझ ना पाई.

वो हवा जो तुझे छूके गयी मुझे छू जाए, एक बार.. एक बार तेरी खुशबू मुझ में सिमट जाए, एक बार.. एक बार तो अपने पल्लू से सहला…एक बार तो अपने रंग फैला… एक बार फिर से दीवाना बना.. बस एक बार.. एक बार तेरे आँसू मेरी हथेली में थम जाए… एक बार तेरी हंसी से मेरा आँगन भर जाए, एक बार.. एक बार तो अपना हाथ बड़ा.. एक बार तो गले से लगा.. छू लूं तुझे बस एक बार तो हो जाए रब का दीदार, एक बार.. तू है रो मैं हूँ, तू है तो ही है ये जान… एक बार, एक बार, बस एक बार. – पुलकित सम्राट

ऐ दिल तू क्यूँ रोता है… ये दुनिया है, यहाँ ऐसा ही होता है.. आँखों से टपके आँसू तो उन्हें छुपाया जा सकता है.. लेकिन जब दिल रोये, ऐ ज़ालिम तो क्या कीजिये. – पुलकित सम्राट

तुम्हारी ज़िन्दगी में एक दिन ऐसा ज़रूर आएगा, जब तुम नींद से जागोगी और अपनी लाइफ को फिर से रिवाइंड करके जीना चाहोगी… पर तब वक़्त नहीं होगा… हमे जीना है तो आज जीए, अब जीए, एक दुसरे के साथ जीए… ताकि लाइफ फिर कभी रिवाइंड करने की ज़रुरत ना पड़े. – पुलकित सम्राट

हम ज़िन्दगी में अपनी चॉइस के मुताबिक कुछ नहीं कर सकते.. ये तकदीर, ये किस्मत, ये नसीब, डेस्टिनी, ये सब खेल है इसी का.

लव इज सैक्रिफाइस, त्याग, कुर्बानी… किसी भी जूनून के लिए कुर्बान हो जाना, डेट्स लव.

उसके इंतज़ार में दर्द है… उसे भूल जाने में भी दर्द है… लेकिन उसे भी ज्यादा दर्द इस कनफूजन में है की उसका इंतज़ार करूँ या उसे भूल जाऊं. – यमी गौतम

प्यार का मतलब है जुआ… जीत गए तो प्यार… हार गए तो अफसाना.

प्यार को वहाँ नहीं नहीं ढूँढ़ते जहाँ वो होता नहीं है… और जहाँ वो होता है वहाँ छुपाया भी नहीं जा सकता.

ब्रांडी शराब नहीं होती… ब्रांडी तो जीने का स्टाइल होती है.

पानी का जहाज़ सबसे ज्यादा सेफ समुन्दर के किनारे होता है… लेकिन जहाज़ किनारे खड़े रहने के लिए नहीं… लहरों से जूजने के लिए बनता है. – यमी गौतम

प्यार शादी नहीं होती और शादी प्यार नहीं होता… प्यार में इंसान अँधा, बहरा, गूंगा और बेवक़ूफ़ बनके रह जाता है… और शादी में कान, आँख, दिमाग सब कुछ खुल जाता है.

More Bollywood Movies Dialogues :
Baaghi 3
WAR
ARTICLE 15
SIMMBA
TIGERS
KEDARNATH
ZERO
BAAZAAR
NAMASTE ENGLAND
SATYAMEVA JAYATE

Junooniyat Movie Official Trailer

Share

You may also like...